Skip to Content

Languages

पटना में योग प्रतिमान प्रशिक्षण शिविर

दिनांक 25 अप्रैल को पाम विऊ अस्पताल बेली रोड में विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी बिहार प्रांत द्वारा दो दिवसीय प्रांतीय योग प्रतिमान प्रशिक्षण शिविर का आयोजन पटना में किया गया, जिसमें ‘‘परीक्षा दे हँसते-हँसते’’ विषय पर पटना,गया,सोनपुर एवं मुजफ्फरपुर के विभिन्न विद्यालयों के शिक्षकों की कार्यशाला हुई। ये प्रतिभागी अपने-अपने विद्यालयों मेें विद्यार्थियों को परीक्षा जैसे जटिल,उबाऊ और तनावपूर्ण विषय को कैसे खेल-खेल में अधिक से अधिक नम्बर लाने कीे वैज्ञानिक पद्धति को बताएगें जिससे विद्यार्थी हँसते-हँसते परीक्षा पूरी कर सकेगे।

इस दो दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन डाॅ॰ अजय कुमार (पाम विऊ अस्पताल के निदेशक) ने किया। उन्होंने कहा कि आज युवाओं का आदर्श विवेकानन्द ही होना चाहिए, आज भारत के प्रधानमत्री में विवेकानन्द का स्वरूप, आदर्श और कर्मठता झलकती है।उन्होंने कहा कि आज लोगों के पास पैसा हो गया है और नींद गायब हो गयी है, भोजन फास्टफूड हो गया है और पाचन धीमा हो गया है।

बिहार एवं झारखण्ड के प्रांत पर्व प्रमुख श्री दयाशंकर पांडे ने संस्था की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विवेकानन्द केन्द्र एक आध्यात्म प्रेरित सेवा संगठन है जिसका मुख्यालय कन्याकुमारी में है और यह अपने 66 विद्यालयों एवं 813 शाखाओं के माध्यम से पूरे भारत में कार्यरत है। यह मुख्य रूप से सेवा गतिविधियों,योग प्रशिक्षण,सांस्कृतिक एवं सेवा, प्रकाशन, युवाओं और बालकों के लिए व्यक्तिव विकास जैसे शिविरों का संचालन करती है।

बिहार एवं झारखण्ड के प्रांत संगठक मुकेश कीर ने बताया कि इस दो दिवसीय कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य परीक्षा जैसे तथाकथित बोझिल एवं तनावपूर्ण स्थिति में बच्चों को योग, खेल, गीत तथा पढ़ने और नोट्स बनाने की वैज्ञानिक पद्धति को बताया गया। परीक्षा में असफल होने पर विद्यार्थी जीवन मरण का प्रश्न बना लेते है और आत्महत्या तक कर बैठते है इसके लिए उन्होंने सचिन तेन्दुलकर का उदाहरण दिया जो इंटर पास नहीं होने पर भी दूसरे क्षेत्र में  सफल बन अन्यों के उदाहरण बने। इस दो दिवसीय कार्यशाला को रोचकपूर्ण विधियों द्वारा विद्यार्थियों को कैसे टी सी आई नोट्स बनाना है? कैसे याद करना है? कैसे आत्मविश्वास में वृद्धि होगी? कैसे स्मरण शक्ति को बढ़ाया जाय? चंचल मन को कैसे एकाग्र किया जाए? उर्जा का कैसे व्यवस्थित उपयोग किया जाए? आदि विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई।

दिनांक 26 अप्रैल को इस कार्यक्रम का समापन श्री राकेश कुमार(वाउज मारूति शोरूम के निदेशक)द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से 30 प्रतिभागी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रांत व्यवस्था प्रमुख श्री सत्येन्द्र शर्मा उपस्थित रहे। दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का संचालन प्रांत प्रशिक्षण प्रमुख श्री डाॅ॰ पंकज कुमार द्वारा किया गया।