Skip to Content

Languages

Bihar

स्वामी विवेकानन्द जयन्ती समारोह : पटना

Swami Vivekananda jayanti celebrated in patna on 15 jan 12रविवार माद्य कृष्ण सप्तमी १५ जनवरी २०१२ को विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी पटना शाखा में स्वामी विवेकानन्द की १४९ जयन्ती श्रद्धा एवं उत्साहपूर्वक मनायी गयी। विवेकानन्द केन्द्र के कार्यालय पर समारोह का आयोजन राष्ट्र पुनः निमार्ण के लिए युवाओं के आह्नान से हुआ।

‘‘विजय ही विजय’’ युवा अभियान - बिहार

vijay hi vijay yuva aviyan 2012विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी, बिहार प्रान्त का ‘‘विजय ही विजय’’ युवा अभियान का तृतिय चरण नेतृत्व विकास  महाशिविर के रुप में भागलपुर में दिसम्बर २५ से २९ दिसम्बर २०११ को सरस्वती विद्या मंदिर, नरगा कोठी, चंपानगर में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। युवा ही युवा अभियान बिहार के १८ जिलों के महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में सम्पन्न हुआ। द्वितिय चरण के रुप में एकदिवसीय शिविरों के माध्यम से चयनित ११७ प्रतिभागियों ने प्रतियोगिता में भाग लिया। बिहार और मध्य प्रान्त के ७० कार्यकताओं ने योगदान दिया।

Talk on - Globalisation and Universal Brotherhood on the occasion of Universal Brotherhood Day in Gaya

AudianceVivekananda kendra, Kanyakumari, Gaya had organised a public program on the occasion of "Vishva Bandhutva Divas-Universal Brotherhood Day" in Dharma Sabha Bhawan,Ramna Road,Gaya.

National Yoga Shiksha Shibir 5-19 May, 2011 at Kanyakumari

Since 1976, Vivekananda Kendra is organizing “Yoga Shiksha Shibirs” at Vivekanandapuram, Kanyakumari for the propagation of Yoga way of life and to help the participants in their spiritual growth. It is also to make the participants aware of the current social situations and the responsibility of every citizen for the constructive contribution for the betterment of the society. .

5741173001_e539bacd69.

विवेक सन्देश रिपोर्ट : पटना केन्द्र

विवेकानंदा केंद्र कन्याकुमारी सखा पटना द्वारा २७-०१-११ को दिनकर गोलम्बर, राजेंद्र नगर पटना में विवेक सन्देश का आयोजित किया गया | जिसके अंतर्गत स्वामी विवेकानंदा के जीवन पर आधारित प्रदर्शनी जिसमे उनके जीवन और संदेशो को दर्शाया गया था एवं साहित्य विक्रय का प्रदर्शन भी किया गया | विवेक सन्देश के लिया निशुल्क पोस्टकार्ड की व्यवस्था की गयी थी,जसमे स्वामी विवेकानंदा के विचारो को मित्र या सम्बन्धियों तक पहुँचाने के लिए ,जनता को आवाहन किया गया |

Syndicate content