Skip to Content

Languages

Rajasthan

वैशाली नगर में योग शिविर 19 मई से

19/05/2017 05:30
Asia/Calcutta

विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी शाखा अजमेर के तत्वावधान में योग सत्र का आयोजन शुक्रवार 19 मई 2017 से शहीद भगत सिंह उद्यान, वैशाली नगर, अजमेर में किया जा रहा है। यह योग शिविर प्रातः 5.30 से 7.00 बजे तक आयोजित होगा। उक्त जानकारी देते हुए नगर प्रमुख रविन्द्र जैन ने बताया कि यह योग सत्र 15 वर्ष और उससे अधिक आयु वर्ग के महिला एवं पुरूषों के लिए आयोजित किया जा रहा है। शिविर में पातंजल योग दर्शन पर आधारित योगाभ्यास का व्यवहारिक एवं सैद्धांतिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा जिसमें बच्चों एवं युवाओं को स्मरण शक्ति विकास एवं व्यक्तित्व विकास का प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। आधि एवं व्याधि के संबंध में विभ

Activities update from Rajasthan Prant

* Vivekananda Kendra Kanyakumari Udaipur Branch organised a 5 Day Parikasha De Hasate! Hasate! Yoga Pratimaan in Vidya Bhavan Public School.  This pratimaan helps students to come out of Exam fear and also to improve concentration, memory and confidence. The pratimaan includes interactive Sessions, games and Yogabhyas.22 students of class 10 participated in this pratimaan. Rajasthan Prant Sangathak Su. Pranjalididi, Shri. Sharad Singh, Bhilwara Vibhag sah - Sanchalak  Dr. Pukharaj Sukhlecha and Udaipur Sanyojak Shri.

नाका मदार में योग शिविर 5 मई सेे

05/05/2017 05:45
Asia/Calcutta
विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी शाखा अजमेर के तत्वावधान में योग सत्र का आयोजन रविवार 5 मई 2017 से नर्मदेश्वर महादेव मंदिर परिसर, एम.डी. काॅलोनी नाका मदार, अजमेर में किया जा रहा है। इस शिविर में प्रथम सत्र में प्रातःकाल 5.45 से 6.45 तक योगाभ्यास एवं दूसरे सत्र में सांय 6.30 से 7.30 तक सैद्धांतिक सत्र, प्राणायाम एवं ध्यान के अभ्यास कराए जाएंगे।

भारत भक्ति ही हमारी शक्ति हो

Swami Vivekananda Jayanti 2017 Ajmerविवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी शाखा अजमेर द्वारा विवेक सप्ताह के तहत मकर संक्रांति पर राजाकोठी स्कूल, गुलाबबाड़ी में विवेकानन्द जयन्ती समारोह मनाया गया

समर्थ भारत पर्व पर विशेष समर्थ शिक्षक ही समर्थ भारत की आधारशिला

Samarth Bharat Parva 2016 Ajmerजीवन रोते हुए नहीं बल्कि समर्थता से जीना है। हमें प्रोफेशन का चयन तभी करना है जब उसे सार्थक करने की सामर्थ्य हमारे अंदर हो। स्वामी विवेकानन्द अनेक कष्टों को सहकर भारत के उत्थान का चिंतन अमेरिका में रहकर करते रहे। संपू

Syndicate content